Breaking News
Home / खबरे / उत्तराखंड के जाने-मने ऋषिकेश AIIMS को बेस्ट मेडिकल यूनिवर्सिटी 2020 सम्मान मिला,

उत्तराखंड के जाने-मने ऋषिकेश AIIMS को बेस्ट मेडिकल यूनिवर्सिटी 2020 सम्मान मिला,

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, एम्स ऋषिकेश के लिए अच्छी खबर है। एम्स ऋषिकेश को उच्चतम और उन्नत चिकित्सा देखभाल और उच्च गुणवत्ता वाले अनुसंधान के क्षेत्र में किए गए उत्कृष्ट कार्यों के लिए सर्वश्रेष्ठ चिकित्सा विश्वविद्यालय 2020 पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। बेस्ट मेडिकल यूनिवर्सिटी अवार्ड 2020 उत्तराखंड विज्ञान और प्रौद्योगिकी द्वारा प्रदान किया गया। यह वास्तव में हृषिकेश एम्स के लिए गर्व की बात है कि एम्स के पुरस्कार के दौरान, प्रोफेसर रविकांत ने मरीजों को विश्व स्तर की स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करने के लिए एम्स के संकल्प को दोहराया है। प्रोफेसर रविकांत ने सभी को धन्यवाद दिया और कहा कि 2021 में उनकी उत्कृष्ट सेवाओं को दोहराया जाएगा। एम्स ऋषिकेश से सम्मानित होने पर, संस्थान के निदेशक रविकांत ने एम्स में काम करने वाले सभी अधिकारियों और कर्मचारियों सहित सभी डॉक्टरों का आभार व्यक्त किया है। उन्होंने कहा कि एम्स को दिया उत्तराखंड सरकार और विज्ञान और प्रौद्योगिकी संस्थान की ओर से एम्स ऋषिकेश गया का यह सम्मान पूरे उत्तराखंड के लिए गौरव की बात है। एम्स ऋषिकेश सेवाएं न केवल उत्तराखंड बल्कि देश के कई अन्य राज्यों में भी लोगों तक पहुंच रही हैं। ऐसे में हमारी कोशिश होगी कि हर कोई हमारी सेवाओं का लाभ उठा सके और स्वस्थ जीवन जी सके।

इसी के साथ उन्होंने कहा कि एम्स ऋषिकेश एडवांस उपचार के साथ ही दूरस्थ गांवों और घरों तक पहुंचने का प्रयास कर रहा है ताकि उन लोगों को भी उचित स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ मिल सके। उन्होंने कहा कि एम्स ऋषिकेश मरीजों के स्वास्थ्य की उच्चतम गुणवत्ता की देखभाल के लिए सदैव कार्यरत है और वह आने वाले समय में भी हमेशा मरीजों को बेहतर से बेहतर सुविधा एवं सेवा प्रदान करेगा। प्रो. रविकांत ने अवार्ड लेने के दौरान सभा को संबोधित करते हुए कहा कि एम्स ऋषिकेश में उच्च गुणवत्ता वाले रिसर्च और शोध कार्य में वैज्ञानिकों द्वारा किए जा रहे हैं और इसी के साथ मरीजों के हित को मध्य नजर रखते हुए उनको उच्च गुणवत्ता वाली चिकित्सा भी प्रदान की जा रही है। एम्स ऋषिकेश समय के साथ प्रगति कर रहा है। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड की भौगोलिक परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए नए प्रयास किए जा रहे हैं। इसके अंदर एम्स परिसर में हेलीपैड सेवाएं, ट्रॉमा सेंटर, डायलिसिस यूनिट और कई मल्टी स्पेशलिटी यूनिट भी शामिल की गई हैं।

About kunal lodhi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *